Godda Times

Latest Post

पोड़ैयाहाट: मातृ एवं शिशु दर में कमी को लेकर एक ओर सरकार कई योजनाएं चला रही हैं और करोड़ों रुपये खर्च कर रही है। वहीं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की अनदेखी के कारण प्रसव के उपरांत 20 वर्षीय मरांग बीटी मुर्मू की मौत से पूरे विभाग की कार्यशैली पर सवालिया निशान खड़ा हो गया है। परिजनों में इस बात को लेकर काफी आक्रोश है। रात में जब मरांग बीटी मुर्मू को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। उस समय किसी भी चिकित्सक ने उसे देखा तक नहीं बल्कि एक नर्स ने उसे भर्ती कर लिया। रात में ही सभी दवाई बाजार से लाने के लिए कह दिया। बाजार से दवाई लेकर आने के बाद मरांग बीटी ने एक बच्चे को जन्म दिया। सुबह जब चिकित्सक पहुंचे तो आनन - फानन में इसे तुरंत गोड्डा रेफर कर दिया। गोड्डा ले जाने के क्रम में रास्ते में ही दम तोड़ दिया। मरांग बीटी मुर्मू अमवार के रहने वाले हैं जो सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से महज दो किलोमीटर की दूरी पर है। सरकार ने गर्भवती महिलाओं को लेकर प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान चलाया है। लेकिन, इसके बाद भी मरांग बीटी मुर्मू की मौत हो गई। 

अस्पताल सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कि उसे रक्त की कमी थी जिनके कारण उन्हें गोड्डा भेजा गया यहां ब्लड देने और चढ़ाने की कोई व्यवस्था नहीं थी। अगर स्वास्थ्य कर्मी रात में ही इस बात को उनके परिजनों को बोल दिया होता तो वह उसे गोड्डा लेकर चले जाते। उस क्षेत्र के एएनएम ने बताया कि मरांग बेटी मुर्मू अपने मायके आकाशी में ही रहती थी। अंतिम महीने में अमवार आई थी। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉक्टर सतीश कुमार ने बताया कि सारे आरोप निराधार है। रात में ही उसे कह दिया गया था प्रसव होने के बाद ज्यादा खून बहने के कारण उसे रेफर कर दिया गया था। उसका इलाज सही तरीके से चला है उसमें कोई लापरवाही नहीं बरती गई है।


बॉलिवुड ऐक्ट्रेस तनुश्री दत्ता और नाना पाटेकर का विवाद इन दिनों सुर्खियों में है। इस मामले में आखिरकार अब तनुश्री की बहन इशिता ने चुप्पी तोड़ी है। इशिता से जब इस विवाद पर बात कि गई तो उन्होंने ने बताया कि आखिर उस समय हुआ क्या था। 
हाल ही में बॉलिवुड लाइफ को दिए एक इंटरव्यू में इशिता ने बताया कि कैसे 10 पहले हुई घटना से उनका परिवार बुरी तरह प्रभावित हुआ था। इशिता ने कहा, 'मुझे आज भी याद है, मैं घर पर थी और मैंने विडियो देखा था कि कैसे कुछ लोगों ने मेरी बहन की कार को घेर लिया था और उसके शीशे तोड़ने पर उतारू हो गए थे। मैं ये सब देख कर डर गई थी क्योंकि मैं उस समय उसके साथ नहीं थी। मुझे नहीं समझ में आ रहा था कि मैं क्या करूं। वो वाकया मैं कभी नहीं भूल पाऊंगी। 


इशिता का कहना है कि उनकी बहन ने जिस तरह से अपने साथ हुई बदसलूकी के खिलाफ आवाज उठाई है, वो दूसरों के लिए एक मिसाल है। ताकि ऐसी बातों पर लोग खुलकर सामने आ सकें। उन्होंने कहा कि जिसके साथ भी ऐसी बदसलूकी हो उन्हें कभी भी चुप नहीं बैठना चाहिए। इतना ही नहीं इशिता ने यह भी कहा कि उनकी बहन ने ही उन्हें फिल्म इंडस्ट्री जॉइन करने के लिए प्रेरित किया था।

बता दें कि इस विवाद पर अब तक बॉलिवुड के कई स्टार्स तनुश्री के सपॉर्ट में उतर चुके हैं। वहीं कुछ लोग उनके आरोपों को झूठा भी बता रहे हैं। गौरतलब है कि तनुश्री ने मीडिया के सामने आकर पाटेकर पर उन्हें वर्ष 2008 में 'हॉर्न ओके प्लीज' के सेट पर उत्पीड़ित करने का आरोप लगाया था।

गोड्डा : गोड्डा में दो बच्चों की हत्या का मामला सामने आया है। दोनों बच्चे बुधवार दिन से ही गायब थे।गुरुवार को गांव के बाहर सुनसान इलाके में दोनों का क्षत-विक्षत शव बरामद किया गया। गोड्डा नगर थाना क्षेत्र के बढ़ौना गांव के जयकरण राउत और मशुद्दी राउत के बेटे बुधवार दिन से ही गायब थे। शाम तक नहीं मिलने के बाद परिजनों ने नगर थाने में शिकायत दर्ज करवाई लेकिन सुबह दोनों बच्चों का क्षत-विक्षत लाश एक पोखर से मिला। बच्चों का शव मिलते ही सनसनी फैल गई..दोनों बच्चे 8-9 साल के थे..और दोनों आपस में चचेरे भाई थे। इस घटना के बाद पुलिस को सूचना दी गई ।


जानकारी के मुताबिक, नगर थाना क्षेत्र के बड़हारा जोरिया के पास गुरुवार को दो बच्चों के शव मिले हैं। परिजनों के मुताबिक, इनकी हत्या की गई है। दोनों बच्चों की आंखें गायब हैं। दोनों बच्चे बढ़ौना गांव के रहने वाले हैं। एक बच्चे का नाम करण कुमार है, वह जयकरण राउत का बेटा है। दूसरे बच्चे का नाम आनंद, वह मकसूदी राउत का बेटा है। सुबह लोगों ने दोनों के शव देखे और परिजनों को इसकी जानकादी दी।

परिजनों का कहना है कि उनके बच्चों की हत्या की गई है। ये बच्चे रौतारा बढ़ौना मिडिल स्कूल में पढ़ते थे। दोनों बुधवार सुबह 11 बजे से गायब थे। इनके शरीर पर चोट के निशान नहीं हैं, केवल आंख निकाली हुई हैं।

इधर, घटना की सूचना मिलने पर एसपी राजीव रंजन सिंह, एसडीपीओ अभिषेक कुमार, निरीक्षक ब्रज किशोर प्रसाद ने घटनास्थल पर पहुंच कर मामले की छानबीन की। लोग शव उठाने का विरोध किया। विधायक अमित कुमार मंडल भी घटनास्थल पहुंचे व परिजन से मिले। एसपी व एसडीपीओ भी बढ़ौना गांव पहुंचे और परिजनों से पूछताछ की। परिजनों ने हत्या का आरोप लगाया है।

गोड्डा : मुफस्सिल थाना क्षेत्र के हरिपुर गांव में आपसी विवाद के दौरान सेवानिवृत्त फौजी ने पहले अपनी पत्नी को गोली मार दी फिर खुद को गोली मारकर आत्महत्या का प्रयास किया। गोली लगने से पूजा देवी की मौत हो गई, जबकि सेवानिवृत्त फौजी प्रवीण मंडल उर्फ बीरू की हालत गंभीर बताई जा रही है। उसे भागलपुर रेफर किया गया है। पुलिस निरीक्षक ब्रजकिशोर प्रसाद व थाना प्रभारी उमेश मोदी ने घटनास्थल से 0.32 का लाइसेंसी रिवाल्वर और पांच राउंड गोलियां बरामद की हैं।

क्या है मामला : प्रवीण मंडल सेना में कार्यरत था। साल भर पूर्व ही वह सेवानिवृत्त होकर गांव वापस आ गया था। स्थानीय लोगों के अनुसार पति-पत्नी में अक्सर किसी न किसी बात पर विवाद होता था। शुक्रवार दोपहर प्रवीण घर के ऊपरी तल पर स्थित कमरे में था। उसका एक मात्र पुत्र सूर्यप्रताप मंडल (6) भी वहां खेल रहा था। तभी पति-पत्नी के बीच झगड़ा हुआ। विवाद इतना बढ़ा कि प्रवीण ने रिवाल्वर निकालकर पत्नी पूजा के सिर में गोली दाग दी और दूसरी गोली खुद को मार ली। गोलियों की आवाज सुन आसपास के लोग व परिजन ऊपरी तल की ओर दौड़े। अंदर देखा कि दोनों जमीन पर गिरे हैं। उन्हें सदर अस्पताल भेजा गया। वहां से भागलपुर रेफर कर दिया गया। पूजा ने भागलपुर पहुंचने से पहले ही दम तोड़ दिया। पुलिस निरीक्षक ब्रजकिशोर प्रसाद व थाना प्रभारी उमेश मोदी ने बताया कि सुरक्षा के लिए उसने छह माह पहले रिवाल्वर लिया था।

"पति-पत्नी के बीच आपसी विवाद था। विवाद के कारण पहले पत्नी को गोली मारी फिर प्रवीण ने खुद को गोली मार ली। पुलिस ने कांड अंकित कर जांच शुरू कर दी है। रिवाल्वर भी बरामद हो गया है।" - अभिषेक कुमार, एसडीपीओ गोड्डा

उमाशंकर सिंह ने गोड्डा जिले के उपायुक्त पद ग्रहण करने के बाद अस्वस्थ होने के कारन कार्य से अवकाश ले लिया था। अवकाश समाप्त हो जाने के बाद भी उपायुक्त पद पर पुनः योगदान न करने के कारन गिरिडीह उप विकास आयुक्त के पद पर कार्यरत किरण कुमारी पासी को गोड्डा उपायुक्त के रूप में पदस्थापित किया गया। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की पूर्व संध्या पर जिले को दूसरी बार महिला उपायुक्त मिली है। किरण कुमारी पासी गोड्डा जिले की दूसरी महिला उपायुक्त और गोड्डा जिले की 48वी उपायुक्त बन गयी हैं ।

किरण कुमारी पासी जिले की 48वें उपायुक्त के रूप में बुधवार शाम योगदान किया। नव पदस्थापित उपायुक्त ने प्रभारी उपायुक्त वरुण रंजन से पदभार ग्रहण किया। पदभार ग्रहण करने के बाद उन्होंने बताया कि उनकी प्राथमिकता विधि व्यवस्था को बेहतर रखना है। साथ ही जिले के विकास के लिए जो काम चल रहा है, उसे शतप्रतिशत सफल करना है। उन्होंने कार्य में पारर्दिशता व समाज के अंतिम व्यक्ति तक सरकार की योजनाओं को पहुंचाने की बात कहीं।

साथ ही आपको बता दें कि, कुछ दिन पूर्व जिले के 46वें उपायुक्त के रूप में उमाशंकर सिंह ने पदभार ग्रहण किया था। लेकिन अस्वस्थ रहने के कारण वह पदभार ग्रहण के बाद छुट्टी पर चले गए। इसके बाद उप विकास आयुक्त वरुण रंजन को उपायुक्त का अतिरिक्त प्रभार दिया गया। अवकाश अवधि समाप्त होने के बाद भी उमाशंकर सिंह के योगदान नहीं करने के कारण कार्मिक प्रशासनिक सुधार तथा राजभाषा विभाग ने मंगलवार को उनका स्थानांतरण श्रमायुक्त झारखंड के पद पर कर दिया। वहीं, गिरिडीह उप विकास आयुक्त के पद पर कार्यरत किरण कुमारी पासी को गोड्डा उपायुक्त के रूप में पदस्थापित किया गया। किरण कुमारी पासी भारतीय प्रशासनिक सेवा 2013 बैच की पदाधिकारी हैं। वह मूल रूप से उत्तर प्रदेश के लखनऊ की रहने वाली हैं। उपायुक्त के पद पर उनकी यह पहली पोस्टिंग है।

श्रीदेवी दुबई में एक शादी अटेंड करने गई थीं। बॉनी कपूर के छोटे भाई और अभिनेता संजय कपूर ने श्रीदेवी के निधन की पुष्टि करते हुए बताया कि यह घटना रात 11 से 11.30 बजे के बीच की है।

दिग्गज अभिनेत्री श्रीदेवी का दुबई में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वह 54 वर्ष की थीं। वह पारिवारिक समारोह में हिस्सा लेने दुबई गई थीं। श्रीदेवी के निधन की खबर की पुष्टि करते हुए उनके देवर संजय कपूर ने बताया, “हां, यह सच है।” हालांकि, संजय ने इस बारे में अधिक जानकारी नहीं दी। वह इस समय दुबई में हैं। श्रीदेवी पति बोनी कपूर और छोटी बेटी खुशी कपूर के साथ मोहित मारवाह की शादी में शिरकत करने दुबई गई थीं।

संजय कपूर ने श्रीदेवी के निधन के बारे में इंडियन एक्सप्रेस ऑनलाइन को बताया कि वह खुद भी दुबई में ही थे और थोड़ी देर पहले भारत लौटे ही थे कि यह खबर आ गई। संजय दोबार दुबई जा रहे हैं। दरअसल, श्रीदेवी अपने पति बॉनी कपूर और छोटी बेटी खुशी के साथ मोहित मारवाह के शादी समारोह में शिरकत करने दुबई गई थीं। उनके निधन की खबर सुनकर लोग मुंबई में उनके घर के पास जमा हो रहे हैं। उनकी बड़ी बेटी जाह्नवी भारत में ही हैं। वह शूटिंग की वजह से परिवार के साथ दुबई नहीं गई थीं।


वहीं श्रीदेवी के निधन की खबर से बॉलीवुड में दुख का माहौल है। उन्हें श्रद्धांजलि देने का सिलसिला भी शुरू हो चुका है। बॉलीवुड के कई स्टार्स इस दुखद घटना पर ट्विट कर दुख जता रहे हैं। एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा ने ट्वीट कर लिखा है कि, ‘मेरे पास कोई शब्द नहीं है। श्रीदेवी को प्यार करनेवाले हर व्यक्ति के प्रति संवेदना। एक काला दिन। भगवान उनकी आत्मा को शांति दें।’ दूसरी ओर, प्रीति जिंटा ने लिखा, ‘यह सुनकर दुखी और स्तब्ध हूं कि मेरी ऑल टाइम फेवरिट श्रीदेवी नहीं रहीं। भगवान उनकी आत्मा को शांति और उनके परिवार को ताकत दें।’

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.