XtraStudy

15 से सरकारी भवन में करें आंगनबाड़ी का संचालन

मेहरमा : प्रखंड परिसर स्थित सभागार में मंगलवार को प्रखंड बीस सूत्री कार्यक्रम क्रियान्वयन समिति की बैठक अध्यक्ष श्यामसुंदर साह की अध्यक्षता में हुई। इस दौरान शिक्षा, स्वास्थ्य, बाल विकास, पेयजल, कृषि, प्रधानमंत्री ग्राम आवास, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, स्वच्छ भारत मिशन आदि का मामला छाया रहा। पोषण सखी के बारे में बीडीओ सह बाल विकास परियोजना पदाधिकारी देवदास दत्त ने बताया कि 222 में मात्र 21 का जिले से अनुमोदन हुआ है। त्रुटि रहने के कारण 40 आवेदन को जिले से वापस लौटा दिया गया। इस पर सदस्यों ने अविलंब अनुमोदन कराने की बात कही। सरकारी भवन रहने के बावजूद सेविका द्वारा अपने-अपने घर पर केंद्र का संचालन करने की शिकायत पर आगामी 15 अगस्त तक सभी सेविका को सरकारी भवन में केंद्र संचालन का निर्देश दिया गया। 

15 से सरकारी भवन में करें आंगनबाड़ी का संचालन

उपाध्यक्ष बलराम कुशवाहा ने प्रखंड के अधिकतर विद्यालयों में घटिया पोशाक के वितरण पर नाराजगी व्यक्त करते हुए इसमें सुधार का निर्देश दिया। पोशाक की राशि बच्चों के खाता में ही भेजने के लिए प्रस्ताव पारित किया गया। रजौन व मधुरा गांव में लगाए गए नए चापाकल में हैंडिल नहीं लगाने पर आपत्ति व्यक्त करते हुए पांच दिन के अंदर हैंडिल लगाने का निर्देश दिया गया। एक सप्ताह के अंदर एपीएल कार्ड का वितरण कराने की बात कही गई। बीस सूत्री सदस्य ललन कुमार झा ने प्रसव व बंध्याकरण करानेवाली महिलाओं को नियमानुसार व समय पर प्रोत्साहन राशि के भुगतान नहीं होने पर नाराजगी व्यक्त की। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. प्रभात कुमार सिन्हा ने कहा कि प्रसव कराने के लिए कोई गर्भवती महिला निजी वाहन से अस्पताल आती है तो उसे पांच सौ रुपया देने का प्रावधान है। बताया कि कसवा में तीन रात्रि प्रहरी, एक चालक व एक सफाईकर्मी की बहाली की गई है। श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी गिरीश कुमार ने बताया कि प्रखंड के विभिन्न गावों के 6500 मजदूरों का पंजीयन किया गया है। इनमें से 182 को सेप्टी किट के लिए एक-एक हजार रुपये का भुगतान किया गया है। इस अवसर पर सीओ ब्रजेश कुमार श्रीवास्तव, जिला बीस सूत्री सदस्य सह विधायक प्रतिनिधि शीतल सिन्हा, संतोष ¨सह, फुदिया देवी, जय प्रकाश दास आदि मौजूद थे। संचालन उपाध्यक्ष बलराम कुशवाहा ने किया।

Post a comment

0 Comments