पथरगामा में 45 वर्षीय ने फांसी लगाकर दी जान


पथरगामा : लखनपहाड़ी पंचायत के भांजपुर ग्राम में शनिवार की सुबह 45 वर्षीय शिवलाल टुडू ने गले में फंदा लगाकर अपनी जान दे दी। मृतक की पत्नी वाहामय मरांडी ने बताया कि रोज की तरह शनिवार को शिवलाल टुडू सुबह उठा तथा दैनिक क्रिया करने के बाद बेटे प्रदीप टुडू (12 वर्ष) व पुत्री सरिता टुडू (8 वर्ष) के साथ बैठकर खाना खाया। खाने के बाद घर में सोने चला गया। मृतक की पत्नी ने बताया कि वह घर से कुछ दूरी पर दुकान चली गई थी। लौटने पर उसने  देखा कि घर का दरवाजा बंद है। आवाज देने पर भी किसी ने दरवाजा नहीं खोला। इसके बाद धक्का देकर अंदर गई तो अंदर पति को फंदे से लटकते देखा। शोर मचाने पर घर से कुछ ही दूरी पर काम कर रहा पुत्र प्रदीप टुडू दौड़कर आया। आसपास के लोगों के सहयोग से पिता को फंदे से नीचे उतारा तब तक उनकी मौत हो चुकी थी। 

ग्रामीणों ने इस घटना की सूचना पथरगामा थाना को दी। सूचना मिलते ही पुलिसकर्मी भांजपुर ग्राम पहुंचे और शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए गोड्डा भेज दिया। पुत्र प्रदीप टुडू ने बताया कि पिता शिवलाल टुडू की मानसिक स्थिति पिछले कुछ माह से ठीक नहीं थी। इस वजह से वह खाना खा कर सो जाते थे। कभी कभी शराब के नशे में पूरे गांव का भ्रमण करते रहते थे। प्रतिदिन शराब पीते थे और मना करने के बावजूद भी वह नहीं मानते थे।


What do you say ?

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.