XtraStudy

बिहार में बिजली गिरने से 83 की मौत जबकि 30 अन्य घायल, 15 से अधिक मवेशी भी मारे गए


बिहार में, गुरुवार को राज्य के कई हिस्सों में आंधी-तूफान और बिजली गिरने से कम से कम 83 लोगों की जान चली गई जबकि 30 अन्य घायल हो गए। खगड़िया जिले में बिजली गिरने से 15 से अधिक मवेशी भी मारे गए। विभिन्न जिलों से संपत्ति के बड़े पैमाने पर नुकसान की भी सूचना मिली है।


गोपालगंज में 13 लोगों की मौत हो गई, मधुबनी और नवादा में आठ-आठ लोगों की जान चली गई, सिवान और भागलपुर में छह-छह, पूर्वी चंपारण, दरभंगा और बांका में पांच-पांच, खगड़िया और औरंगाबाद में तीन-तीन, पश्चिम चंपारण, किशनगंज, जहानाबाद जमुई, पूर्णिया, सुपौल, बक्सर और कैमूर में दो-दो लोग मारे गए। और एक-एक समस्तीपुर, शेहर, सारण, सीतामढ़ी और मधेपुरा में मारे गए।


बिहार में बिजली गिरने के कारण एक ही दिन में 83 लोगों के मारे जाने की मीडिया रिपोर्ट सामने आने के बाद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विटर पर अपनी संवेदना व्यक्त की।

“बिहार और उत्तर प्रदेश के कुछ जिलों में भारी बारिश और बिजली गिरने से कई लोगों की मौत हो गई। राज्य सरकारें मुस्तैदी से राहत कार्य में जुटी हैं। मैं उन लोगों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं, जिन्होंने इस आपदा में अपनी जान गंवाई है, ” प्रधानमंत्री ने गुरुवार को ट्वीट किया।

Post a comment

0 Comments